क्राइमताजा खबरेदुनियापॉलिटिक्स

पाकिस्तान ने जवानों की रेकी करने के लिए भेजा ड्रोन, बीएसएफ ने मार गिराया, हथियार-गोलाबारूद बरामद

कठुआ के पानसर इलाके में पाकिस्तान से हथियार लेकर जा रहे जिस ड्रोन को बीएसएफ ने ध्वस्त किया है, उससे हथियारों का बड़ा जखीरा बरामद हुआ है। इस ड्रोन से जवानों को एक अमेरिकन कार्बाइन भी मिली है। जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में सीमा पार से आए ड्रोन से जो हथियार बरामद हुए हैं, वह किसी बड़ी आतंकी साजिश की ओर इशारा कर रहे हैं।

इस ड्रोन के जरिए पाकिस्तानी सेना की शह पर अमेरिका की एक बंदूक भी भेजी गई है, जिसे बीएसएफ ने अपने कब्जे में लिया है। अधिकारियों ने बताया कि ड्रोन के साथ एक राइफल, दो मैगजीन, 60 राउंड और सात ग्रेनेड बंधे हुए थे, जिन्‍हें जब्‍त कर लिया गया है। बता दें कि पाकिस्तान आतंकियों को कश्मीर में सक्रिय रखने के लिए इस तरह से हथियारों की आपूर्ति कर रहा है, ताकि घाटी में हिंसक घटनाएं होती रहे। हालांकि, भारतीय सेना ने अंतकियों के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है, ताकि शांति एवं कानून-व्यवस्था को बिगाड़ा न जा सके। सीमा पर होने वाली छोटी से छोटी हरकत पर सेना की कड़ी नजर बनी हुई है।

कठुआ में बरामद हुए ड्रोन से यूएस में बनी एम-4 कार्बाइन बनी है। ये कार्बाइन वही हथियार है, जिनका इस्तेमाल अमेरिका की नाटो फोर्सेज तालिबान के खिलाफ ऑपरेशंस के दौरान करती रही हैं। कश्मीर में बीते सालों में मारे गए कई टेरर कमांडर्स के पास से ऐसी बंदूक मिल चुकी है। ऐसे में शक है कि किसी बड़ी आतंकी साजिश के लिए इसे ड्रोन के जरिए कठुआ के आसपास के किसी इलाके में भेजा जा रहा था। अमेरिकन बंदूक के अलावा ड्रोन में लगे सात ग्रेनेड भी बीएसएफ ने जब्त किए हैं। इस ड्रोन को अब कब्जे में लेकर इसकी जीपीएस ट्रैकिंग कराने की कोशिश है, जिससे यह पता चल सके कि इसको कहां से कहां भेजा जा रहा था।

Share With Your Friends If you Loved it!
  •  
  •  
  •  
  •