क्राइमताजा खबरेदुनियाराष्ट्रीय

अनंतनाग में हिज्बुल का टॉप कमांडर मसूद ढेर, त्राल के बाद डोडा भी आतंक मुक्त

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के सफाए का अभियान काफी तेज हो गया है। ऑपरेशन ऑलआउट के तहत चुन-चुनकर आतंकियों का काम तमाम हो रहा है। कश्मीर घाटी में आतंक का गढ़ माने जाने वाले त्राल को आतंक मुक्त करने के बाद अब जम्मू के डोडा में बड़ी कामयाबी मिली है। जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीजीपी दिलबाग सिंह ने जम्मू जोन के डोडा जिले को आतंक मुक्त होने का ऐलान किया है।

डीजीपी दिलबाग सिंह ने डोडा में आतंकियों के ताबूत में आखिरी कील ठोकने का ऐलान करते हुए कहा, ‘अनंतनाग के खुल चोहार इलाके में पुलिस और लोकल राष्ट्रीय राइफल्स यूनिट के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को ढेर किया गया। इनमें से एक लश्कर का जिला कमांडर था। मुठभेड़ में हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर मसूद को भी ढेर कर दिया गया है। इसके साथ ही जम्मू जोन का डोडा जिला आतंकियों से पूरी तरह मुक्त हो गया है।’

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा, ‘मसूद के रूप में आखिरी सक्रिय आतंकवादी के मारे जाने के बाद अब डोडा जिला पूरी तरह आतंकवाद मुक्त हो गया है।’ पुलिस ने कहा कि मसूद दुष्कर्म के एक मामले में शामिल था और फरार था। बाद में उसे उसने हिज्बुल का दामन थाम लिया और कश्मीर को अपना एरिया ऑफ ऑपरेशन बनाया। मुठभेड़ स्थल से एक एके-47 राइफल और दो पिस्टल बरामद किए गए। अनंतनाग जिले में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच सोमवार को हुई मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए हैं। अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों के सुरक्षा बलों पर गोलियां चलाने के बाद अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए। इनमें लश्कर के दो आतंकियों के साथ ही हिज्बुल कमांडर मसूद भी शामिल है।

Share With Your Friends If you Loved it!
  •  
  •  
  •  
  •